इस जानकारी को छोड़ दें

क्या करें जब हमें खुद को दूसरों से अलग रखना पड़े

क्या करें जब हमें खुद को दूसरों से अलग रखना पड़े

क्या आप खुद को अकेला या तनहा महसूस कर रहे हैं? अगर हाँ, तो आप भी पवित्र शास्त्र बाइबल के एक लेखक की तरह महसूस कर रहे होंगे: “मैं उस पंछी की तरह हूँ जो छत पर तनहा बैठा रहता है।” (भजन 102:7) बाइबल की सलाह मानने से आप उन परेशानियों का सामना कर पाएँगे जो दूसरों से अलग रहने या आइसोलेशन की वजह से आप पर आ रही हैं।

 परमेश्‍वर के करीब आइए

भले ही आप दूसरों से मिल-जुल नहीं पा रहे, फिर भी आप खुश रह सकते हैं। वह कैसे? परमेश्‍वर को जानने और उसके करीब आने के लिए समय निकालिए। (मत्ती 5:3, 6) आगे दिए कुछ इंतज़ामों से आप फायदा पा सकते हैं।

 बाइबल के वे हिस्से पढ़िए जिनसे दिलासा मिलता है

आगे दी आयतों से बहुत-से लोगों को दिलासा मिला है। बाइबल के इन हिस्सों को एक बार में ही पढ़ने के बजाए इसका एक हिस्सा पढ़िए। उस पर मनन कीजिए और प्रार्थना कीजिए। आइसोलेशन के दौरान अपना समय इस्तेमाल करने का यह अच्छा तरीका है।—मरकुस 1:35.

 जानिए की दुनिया के हालात इतने बुरे क्यों हैं

जब आप जानेंगे कि दुनिया में इतनी बुराई क्यों है और परमेश्‍वर इसे कैसे खत्म करेगा, तो आप मुश्‍किल हालात का अच्छी तरह सामना कर पाएँगे।—यशायाह 65:17.

 बेवजह चिंता मत कीजिए

आगे बताए विषयों पर दिए लेख पढ़ने से आप आइसोलेशन के समय तनाव कम कर पाएँगे और हद-से-ज़्यादा चिंता नहीं करेंगे।—मत्ती 6:25.

 दोस्ती बढ़ाइए

अगर आपके दोस्त होंगे तो आप खुश रहेंगे और सही सोच बनाए रखेंगे। आपको खासकर तब उनसे जुड़े रहना चाहिए जब उनसे आमने-सामने मिलना मुश्‍किल हो। अगर आप घर से बाहर नहीं निकल सकते, तो आप वीडियो-कॉल या फोन के ज़रिए अपने दोस्तों से जुड़े रह सकते हैं और नए दोस्त भी बना सकते हैं। आगे दिए लेखों में दी जानकारी पढ़ने से आप न सिर्फ अच्छे दोस्त बना पाएँगे बल्कि खुद भी एक “सच्चा दोस्त” बन पाएँगे।—नीतिवचन 17:17.

 चुस्त-दुरुस्त रहिए

बाइबल बताती है कि ‘शरीर की कसरत फायदेमंद होती है।’ (1 तीमुथियुस 4:8) कसरत करने से हम सही सोच बनाए रख पाएँगे और खुश रहेंगे खासकर आइसोलेशन के दौरान। हालाँकि आप घर से बाहर नहीं निकल सकते फिर भी आप चुस्त-दुरुस्त रहने के लिए कुछ कर सकते हैं।