इस जानकारी को छोड़ दें

सैकेंडरी मैन्यू को छोड़ दें

यहोवा के साक्षी

हिंदी

क्या शास्त्र में कोई सलाह है, जिससे मेरा परिवार सुखी हो सकता है?

क्या शास्त्र में कोई सलाह है, जिससे मेरा परिवार सुखी हो सकता है?

शास्त्र से जवाब

ज़रूर। इस विषय पर पवित्र शास्त्र बाइबल में काफी बढ़िया सलाह दी गयी है, जिस पर चलने से लाखों परिवारों में खुशियाँ आयी हैं। उदाहरण के लिए, नीचे दी कुछ बातों पर ध्यान दीजिए।

  1. शादी कानूनी तौर पर मान्य होनी चाहिए। कानूनी तौर पर शादी करने पर आप ज़िंदगी भर एक-दूसरे का साथ निभाने का वादा करते हैं। यह वादा सुखी परिवार की बुनियाद बन जाता है।मत्ती 19:4-6.

  2. प्यार से पेश आइए और एक-दूसरे का आदर कीजिए। जिस तरह आप चाहते हैं कि आपका साथी आपके साथ पेश आए, उसी तरह आपको भी उसके साथ पेश आना चाहिए।मत्ती 7:12; इफिसियों 5:25, 33.

  3. कड़वे शब्द मत बोलिए। प्यार से बात कीजिए, तब भी जब आपका साथी कुछ ऐसा कहे या करे, जिससे आपको दुख पहुँचे। (इफिसियों 4:31, 32) शास्त्र में लिखा है, “नरमी से जवाब देने पर क्रोध शांत हो जाता है, लेकिन चुभनेवाली बात से गुस्सा भड़क उठता है।”नीतिवचन 15:1.

  4. एक-दूसरे के वफादार रहिए। सिर्फ अपने जीवन साथी से रोमानी प्यार कीजिए और लैंगिक रिश्ता रखिए। (मत्ती 5:28) शास्त्र में लिखा है, “शादी सब लोगों में आदर की बात समझी जाए और शादी की सेज दूषित न की जाए।”इब्रानियों 13:4.

  5. अपने बच्चों को प्यार से सिखाइए। ज़रूरत से ज़्यादा छूट मत दीजिए और न ही हद-से-ज़्यादा सख्ती बरतिए।नीतिवचन 29:15; कुलुस्सियों 3:21.