इस जानकारी को छोड़ दें

क्या बाइबल में इंसानों की बुद्धि-भरी बातें लिखी हैं?

क्या बाइबल में इंसानों की बुद्धि-भरी बातें लिखी हैं?

शास्त्र से जवाब

बाइबल को पवित्र शास्त्र भी कहा जाता है। इसमें बहुत-सी बुद्धि-भरी कहावतें लिखी हैं। लेकिन, गौर कीजिए कि बाइबल अपने बारे में क्या दावा करती है: “पूरा शास्त्र परमेश्‍वर की प्रेरणा से लिखा गया है।” (2 तीमुथियुस 3:16) इस दावे को सच साबित करने के लिए काफी सबूत हैं। ज़रा इन बातों पर ध्यान दीजिए:

  • बाइबल में इतिहास के बारे में जो बताया गया है, उसे आज तक कोई भी गलत साबित नहीं कर पाया है।

  • बाइबल के लेखक ईमानदार लोग थे, जिन्होंने बिना कुछ छिपाए बातों को दर्ज़ किया। उनकी ईमानदारी से साफ पता चलता है कि उनकी लिखी हुई बातें सच्ची हैं।

  • बाइबल का एक मुख्य विषय है: इंसानों पर राज करने के परमेश्‍वर के हक को सही साबित करना और स्वर्ग के राज के ज़रिए उसका मकसद पूरा करना।

  • हालाँकि बाइबल हज़ारों साल पहले लिखी गयी थी, फिर भी बाइबल में विज्ञान से जुड़ी ऐसी कोई भी गलत धारणाएँ नहीं, जिन्हें पुराने ज़माने के ज़्यादातर लोग सच मानते थे।

  • इतिहास में दर्ज़ सबूत दिखाते हैं कि बाइबल की भविष्यवाणियाँ, या भविष्य के बारे में कही गयी बातें पूरी हुई हैं।