इस जानकारी को छोड़ दें

सैकेंडरी मैन्यू को छोड़ दें

यहोवा के साक्षी

हिंदी

दुनिया का अंत कब होगा?

दुनिया का अंत कब होगा?

शास्त्र से जवाब

दुनिया का अंत कब होगा, यह जानने के लिए हमें पहले यह समझना होगा कि बाइबल में “दुनिया” शब्द का इस्तेमाल कैसे किया गया है। यूनानी शब्द कॉसमोस का अनुवाद हिंदी में अकसर “दुनिया” किया जाता है, जिसका मतलब है मानवजाति। इसमें खासकर वे लोग शामिल हैं जो परमेश्वर और उसकी मरज़ी के मुताबिक नहीं चलते। (यूहन्ना 15:18, 19; 2 पतरस 2:5) लेकिन कभी-कभार कॉसमोस का मतलब होता है, दुनिया की वह व्यवस्था जो इंसानों ने खड़ी की है, जैसे व्यापारिक, राजनैतिक और धार्मिक व्यवस्था।—1 कुरिंथियों 7:31; 1 यूहन्ना 2:15, 16. *

“दुनिया के अंत” का क्या मतलब है?

बाइबल के कई अनुवादों में “जगत का अंत” और “संसार का अंत” इन शब्दों का इस्तेमाल किया गया है। इन शब्दों का अनुवाद दूसरी कुछ बाइबलों में “दुनिया की व्यवस्था का आखिरी वक्‍त” या ‘युग का अंत’ भी किया गया है। (मत्ती 24:3; अ न्यू हिंदी ट्रांस्लेशन) इन शब्दों का मतलब पृथ्वी का या पूरी मानवजाति का अंत नहीं है, बल्कि इस दुनिया की व्यवस्था का अंत है।—1 यूहन्ना 2:17.

बाइबल बताती है कि “कुकर्मी लोग काट डाले जाएँगे” ताकि अच्छे लोग इस धरती पर खुशी से जी सकें। (भजन 37:9-11) यह नाश “महा-संकट” के उस समय होगा, जब हर-मगिदोन का युद्ध शुरू होगा।—मत्ती 24:21, 22; प्रकाशितवाक्य 16:14, 16.

इस दुनिया का अंत कब होगा?

यीशु ने कहा, “उस दिन और उस वक्‍त के बारे में कोई नहीं जानता, न स्वर्ग के दूत, न बेटा, लेकिन सिर्फ पिता जानता है।” (मत्ती 24:36, 42) उसने यह भी बताया कि अंत अचानक होगा, उस घड़ी जब किसी ने सोचा भी न होगा।—मत्ती 24:44.

हालाँकि हम यह तो नहीं जान सकते कि इस दुनिया का अंत ठीक किस दिन और किस वक्त आएगा, लेकिन यीशु ने हमें “निशानी” के तौर पर कुछ घटनाओं के बारे में बताया, जो एक-साथ होतीं और यह भी कि इन घटनाओं के तुरंत बाद अंत आएगा। (मत्ती 24:3, 7-14) बाइबल में इन घटनाओं के होने के समय को “अन्त समय,” “आखिरी दिनों” और “अन्तिम दिनों” कहा गया है।—दानिय्येल 12:4; 2 तीमुथियुस 3:1-5; हिंदी—ओ.वी.

दुनिया के अंत के बाद क्या कुछ बचेगा?

जी हाँ। पृथ्वी तब भी रहेगी क्योंकि बाइबल में लिखा है कि वह कभी खत्म नहीं होगी। (भजन 104:5) पृथ्वी इंसानों से भरी होगी जैसे बाइबल में वादा किया गया है, “धर्मी लोग पृथ्वी के अधिकारी होंगे, और उस में सदा बसे रहेंगे।” (भजन 37:29) परमेश्वर ने शुरू से जैसे हालात चाहे थे, वह धरती पर वैसे ही हालात लाएगा:

^ पैरा. 3 कुछ बाइबलों में यूनानी शब्द आइऑन का अनुवाद “दुनिया” किया जाता है। जब भी आइऑन का अनुवाद “दुनिया” किया गया है, तो वहाँ आइऑन का मतलब भी कॉसमोस जैसा ही होता है, यानी दुनिया की व्यवस्था।