इस जानकारी को छोड़ दें

सैकेंडरी मैन्यू को छोड़ दें

यहोवा के साक्षी

हिंदी

मैं अपने दिमाग से सेक्स का खयाल कैसे निकालूँ?

मैं अपने दिमाग से सेक्स का खयाल कैसे निकालूँ?

आप क्या कर सकते हैं

सोच-समझकर दोस्त चुनिए। जब आपके दोस्त और साथ पढ़नेवाले बच्चे सेक्स के बारे में गंदी-गंदी बातें करते हैं, तो उनका साथ देने से आपके लिए अपने विचारों पर काबू रखना और भी मुश्किल हो जाएगा। ऐसे हालात में आप बातचीत को इस तरह छोड़कर जा सकते हैं, जिससे आप बहुत ज़्यादा शरीफ भी नज़र न आएँ और दूसरे आपका मज़ाक भी न उड़ा पाएँ।

क्या आप चाहेंगे कि आपके कंप्यूटर में कोई वायरस हो? तो फिर अपने दिमाग में अश्‍लील खयालों को क्यों आने दें?

अनैतिक किस्म के मनोरंजन से दूर रहिए। आजकल के ज़्यादातर मनोरंजन ऐसे किस्म के हैं, जो एक व्यक्‍ति में गलत किस्म की लैंगिक इच्छाएँ पैदा कर सकती हैं। बाइबल क्या सलाह देती है? “आओ हम तन और मन की हर गंदगी को दूर कर खुद को शुद्ध करें और परमेश्वर का भय मानते हुए पूरी हद तक पवित्रता हासिल करें।” (2 कुरिंथियों 7:1) ऐसे मनोरंजन को मत देखिए जो आपमें लैंगिक इच्छाएँ बढ़ा सकती हैं।

याद रखिए: लैंगिक इच्छाएँ होना अपने आप में गलत नहीं है। आखिर, परमेश्वर ने आदमी और औरत को इस तरह ही बनाया है कि वे एक-दूसरे की तरफ आकर्षित हों और शादी के बंधन में बँधकर अपनी लैंगिक इच्छाओं को पूरी कर सकें। इसलिए अगर आपमें ज़बरदस्त लैंगिक इच्छाएँ उठती हैं, तो ऐसा मत सोचिए कि आप बहुत बुरे हैं या फिर आप नैतिक तौर पर कभी शुद्ध नहीं हो सकते।

सौ बात की एक बात: यह फैसला आपके हाथ में है कि आप किन बातों के बारे में सोचते रहेंगे। आप अपनी सोच और अपने चालचलन, दोनों में शुद्ध बने रह सकते हैं, अगर आप चाहें तो!