इस जानकारी को छोड़ दें

सैकेंडरी मैन्यू को छोड़ दें

यहोवा के साक्षी

हिंदी

नौजवानों के सवाल

क्या मैं शादी के लिए तैयार हूँ?

क्या मैं शादी के लिए तैयार हूँ?

इस सवाल का जवाब देने से पहले आपको खुद को अच्छी तरह जानना होगा। मिसाल के लिए, ज़रा इन बातों पर गौर कीजिए:

रिश्ते

आप अपने मम्मी-पापा और भाई-बहनों से किस तरह पेश आते हैं? क्या आपको अकसर उन पर गुस्सा आता है और आप अपनी बात कहने के लिए तीखे शब्दों का इस्तेमाल करते हैं या उन्हें ताना मारते हैं? इस मामले में वे आपके बारे में क्या कहेंगे? आप अपने घरवालों से जिस तरह पेश आते हैं, उससे पता चलता है कि आप अपने जीवन-साथी से किस तरह पेश आएँगे।—इफिसियों 4:31.

आपका नज़रिया

क्या आप हर चीज़ के बारे में अच्छा सोचते हैं या बुरा? क्या आप हमेशा किसी खास तरीके से यानी अपने तरीके से काम करवाने की ज़िद करते हैं या क्या आप दूसरों की बात मानने को तैयार होते हैं? क्या आप तनाव-भरे हालात में शांत रह पाते हैं? क्या आप सब्र से काम ले पाते हैं? अगर आज आप अपने अंदर वे गुण बढ़ाएँ जो गलातियों 5:22, 23 में बताए गए हैं, तो इसका फायदा आपको आगे चलकर होगा जब आप पति या पत्नी बनेंगे।

पैसे

क्या आप पैसों का सोच-समझकर इस्तेमाल करते हैं? क्या आप हमेशा दूसरों से उधार लेते हैं? क्या आप एक जगह टिककर नौकरी कर पाओगे? अगर नहीं, तो क्यों नहीं? क्या इसकी वजह वह नौकरी है या आपका बॉस? या आपकी कोई आदत है जो आपको सुधारनी है? अगर आप पैसों का सही-सही इस्तेमाल नहीं कर पाते, तो जब आपका अपना परिवार होगा, तो आप घर का खर्च कैसे चला पाओगे?—1 तीमुथियुस 5:8.

परमेश्वर के साथ आपका रिश्ता

अगर आप यहोवा के एक साक्षी हैं, तो आप परमेश्वर के साथ अपने रिश्ते को बनाए रखने के लिए क्या कर रहे हैं? क्या आप परमेश्वर का वचन पढ़ने, प्रचार में जाने और मसीही सभाओं में हिस्सा लेने की मेहनत करते हैं? आप जिस इंसान से शादी करेंगे, उसे ऐसा जीवन-साथी मिलना चाहिए जिसका परमेश्वर के साथ मज़बूत रिश्ता हो।—सभोपदेशक 4:9, 10.

आप खुद को जितना अच्छी तरह जानेंगे, उतना ही अच्छी तरह आप एक ऐसे साथी को चुन पाएँगे जो आपकी खूबियों को खुलकर ज़ाहिर करेगा, न कि आपकी कमज़ोरियों को बढ़ा-चढ़ाकर बताएगा।