स्टीवन कहता है, “जब मेरी गर्लफ्रैंड से मेरा ब्रेकअप हुआ तो मुझे ऐसा लगा मानो मेरी पूरी दुनिया ही उजड़ गयी हो। मेरा दर्द बरदाश्त से बाहर था।”

क्या आपके साथ ऐसा हुआ है? अगर हाँ, तो इस लेख से आपको मदद मिल सकती है।

 दिल पर क्या बीतती है?

जब एक लड़का और एक लड़की का ब्रेकअप होता है तो दर्द दोनों को होता है।

  • अगर ब्रेकअप आपने किया है तो आप जैसमिन की भावनाएँ समझ सकते हैं। उसने कहा, “जब आप किसी का दिल तोड़ते हैं तो आपका ज़मीर आपको बार-बार कोसता है। मैं फिर कभी इससे गुज़रना नहीं चाहती।”

  • अगर ब्रेकअप आपके बॉयफ्रैंड या गर्लफ्रैंड ने किया है तो आप समझ सकते हैं कि क्यों कुछ लोग कहते हैं कि ब्रेकअप का दर्द ऐसा है मानो हमारे किसी अपने की मौत हो गयी हो। जैनट कहती है, “मातम मनानेवाले जैसी भावनाओं से गुज़रते हैं वैसी ही भावनाओं से मैं गुज़री हूँ। मैं इनकार करती रही कि उसने मुझे छोड़ दिया है, मैंने गुस्सा किया, सुलह करने की भी कोशिश की और फिर मैं मायूस हो गयी। करीब एक साल बाद जाकर मैंने माना कि हाँ, हमारा रिश्ता खत्म हो चुका है।”

सौ बात की एक बात: जब आपका ब्रेकअप होता है तो आपकी खुशी खत्म हो सकती है और आप मायूस हो सकते हैं। बाइबल के एक लेखक ने कहा, “मन की उदासी सारी ताकत चूस लेती है।”नीतिवचन 17:22.

 आप क्या कर सकते हैं?

  • किसी समझदार व्यक्‍ति से बात कीजिए। बाइबल बताती है, “सच्चा दोस्त हर समय प्यार करता है और मुसीबत की घड़ी में भाई बन जाता है।” (नीतिवचन 17:17) अगर आप अपनी मम्मी या अपने पापा या किसी समझदार दोस्त को अपने दिल की बात बताएँ, तो आप मामले को सही नज़रिया से देख पाएँगे।

    “मैं महीनों तक सब से दूर रही। किसी को नहीं बताया कि मुझ पर क्या बीत रही थी। मगर आखिरकार मैंने अपने दोस्तों को अपने दिल का हाल बताया। तब जाकर मुझे काफी चैन मिला। सच, आपके दोस्त गम से उबरने में आपकी मदद कर सकते हैं।”—जैनट।

  • जो हुआ उससे सीखिए। बाइबल में एक और नीतिवचन कहता है, “बुद्धि हासिल कर, समझ हासिल कर।” (नीतिवचन 4:5) ऐसे बुरे अनुभव से हम खुद के बारे में बहुत कुछ सीख सकते हैं और यह भी कि निराशा का सामना कैसे करें।

    “ब्रेकअप के बाद मेरे एक दोस्त ने मुझसे पूछा, ‘इस रिश्ते से तुमने क्या सीखा? क्या तुमने कुछ ऐसा सीखा जिसका तुम आगे किसी लड़की के साथ डेटिंग करते वक्‍त ध्यान रखोगे?”—स्टीवन।

  • प्रार्थना कीजिए। बाइबल बताती है, “अपना सारा बोझ यहोवा पर डाल दे, वह तुझे सँभालेगा।” (भजन 55:22) प्रार्थना करने से आपको अपने गम से उबरने में मदद मिलेगी। साथ ही, आप इस घटना को एक अलग नज़रिए से देख पाएँगे।

    “लगातार प्रार्थना कीजिए। यहोवा परमेश्वर आपका दर्द समझता है और आपके हालात को आपसे बेहतर जानता है।”—मारसिया।

  • दूसरों की मदद कीजिए। बाइबल बताती है, “हर एक सिर्फ अपने भले की फिक्र में न रहे, बल्कि दूसरे के भले की भी फिक्र करे।” (फिलिप्पियों 2:4) आप जितना ज़्यादा दूसरों की मदद करेंगे उतनी जल्दी आप ब्रेकअप के मामले को अलग नज़र से देख पाएँगे।

    “जब रिश्ता टूट जाता है तो ऐसा लगता है मानो दुनिया का अंत आ गया हो। दिल को लगा ज़ख्म किसी चोट से भी गहरा होता है। मगर यह ज़ख्म भरता है। बस वक्‍त देने की ज़रूरत होती है।”—ऐवलिन।