इस जानकारी को छोड़ दें

सैकेंडरी मैन्यू को छोड़ दें

यहोवा के साक्षी

हिंदी

नौजवानों के सवाल

गंदी तसवीरें देखना क्यों गलत है?

गंदी तसवीरें देखना क्यों गलत है?

 क्या आप गंदी तसवीरों से नज़र फेर सकते हैं?

अगर आप इंटरनेट का इस्तेमाल करते हैं, तो आज नहीं तो कल आपका सामना गंदी तसवीरोंवाली वेबसाइट से हो ही जाएगा। सत्रह साल की हेली कहती है, “आजकल आपको ऐसी वेबसाइट ढूँढ़ने की ज़रूरत नहीं पड़ती, वह आप तक पहुँच जाती है।”

एक ऐसा इंसान भी गंदी तसवीरें देखने के लिए लुभाया जा सकता है जिसने उससे दूर रहने की ठान ली है। अठारह साल का ग्रेग कहता है, “मैंने ठान लिया था कि मैं अपना इरादा कमज़ोर नहीं होने दूँगा, मगर यह कमज़ोर पड़ गया। इसलिए खुद पर ज़्यादा भरोसा मत कीजिए और यह मत सोचिए कि मेरे साथ ऐसा कभी नहीं हो सकता।”

गंदी तसवीरोंवाली वेबसाइट पर जाना आज पहले से कहीं ज़्यादा आसान हो गया है। और जब से सेक्सटिंग शुरू हुई है, बहुत-से लड़के-लड़कियाँ खुद की गंदी तसवीरें लेकर या अश्लील वीडियो बनाकर दूसरों को भेजते हैं।

सौ बात की एक बात: आप जिस मुश्किल का सामना कर रहे हैं, उसका सामना शायद ही आपके माता-पिता या दादा-दादी ने किया हो। मगर सवाल है कि क्या आप गंदी तसवीरों से अपनी नज़र फेर सकते हैं?—भजन 97:10.

बेशक फेर सकते हैं, बशर्ते आप ऐसा करने का फैसला करें। मगर सबसे पहले खुद आपको यकीन होना चाहिए कि गंदी तसवीरें देखना गलत है। आइए देखें कि इस बारे में कुछ लोग जो कहते हैं वह सच है या झूठ।

 सच या झूठ

झूठ: गंदी तसवीरें देखने से मुझे कुछ नुकसान नहीं होगा।

सच: गंदी तसवीरें देखना उतना ही खतरनाक है जितना सिगरेट पीना। सिगरेट पीने से आपके फेफड़ों को नुकसान पहुँचता है और गंदी तसवीरें देखने से आपका दिमाग भ्रष्ट हो जाता है। आपकी नज़र में उस चीज़ का कोई मोल नहीं रह जाता जो परमेश्वर ने इसलिए बनायी ताकि पति-पत्नी के बीच हमेशा के लिए एक अटूट रिश्ता हो। (उत्पत्ति 2:24) यहाँ तक कि कुछ समय बाद आप सही-गलत के बीच फर्क करना भूल जाते हैं। मिसाल के लिए, कुछ विशेषज्ञ कहते हैं कि जो आदमी लगातार गंदी तसवीरें देखते हैं उनका दिल इतना कठोर हो जाता है कि उन्हें औरतों पर हाथ उठाना गलत नहीं लगता।

पवित्र शास्त्र बताता है कि कुछ लोग शर्म-हया की सारी हदें पार कर चुके हैं। (इफिसियों 4:19) यानी उनका ज़मीर इस हद तक सुन्न हो गया है कि बुरे काम करने पर उन्हें ज़रा भी अफसोस नहीं होता।

झूठ: गंदी तसवीरें देखने से आप सेक्स के बारे में सीख सकते हैं।

सच: गंदी तसवीरें देखने से आप सिर्फ अपनी भूख मिटाना सीखते हैं। आपकी नज़रों में लोग महज़ खिलौना बन जाते हैं जिनसे आप अपनी हवस पूरी कर सकें। इसलिए जैसा एक अध्ययन बताता है, यह कोई हैरानी की बात नहीं कि जिन लोगों को गंदी तसवीरें देखने की आदत है उन्हें शादी के बाद अपने जीवन-साथी के साथ संबंध रखकर भी संतुष्टि नहीं मिलती।

पवित्र शास्त्र में यह बढ़ावा दिया गया है कि हम नाजायज़ यौन-संबंध, अशुद्धता, बेकाबू होकर वासनाएँ पूरी करना, बुरी इच्छाएँ और लालच, इन सारी बुराइयों से दूर रहें, जबकि गंदी तसवीरें देखने से लोगों को यही सब बुरे काम करने के लिए उकसाया जाता है।—कुलुस्सियों 3:5.

झूठ: गंदी तसवीरों से नज़र फेरनेवाले सेक्स के बारे में बात करने से झिझकते हैं।

सच: गंदी तसवीरों से नज़र फेरनेवाले सेक्स के बारे में सही नज़रिया रखते हैं। वे मानते हैं कि यह एक तोहफा है जो परमेश्वर ने हर पति-पत्नी को दिया है ताकि उनके शादी का बंधन मज़बूत हो और वे एक-दूसरे का साथ निभाने का वादा पूरा कर सकें। जो लोग यह नज़रिया रखते हैं उन्हें शादी के बाद अपने जीवन-साथी के साथ संबंध रखकर ज़्यादा संतुष्टि मिलती है।

पवित्र शास्त्र में सेक्स के बारे में खुलकर बताया गया है। मिसाल के लिए, इसमें पतियों से कहा गया है कि वे अपनी जवानी की पत्नी के साथ खुश रहें और हमेशा उसके प्यार में डूबे रहें।—नीतिवचन 5:18, 19.

 गंदी तसवीरों से कैसे नज़र फेरें

अगर आपमें गंदी तसवीरें देखने के लिए ज़बरदस्त इच्छा जागती है और आपको लगता है कि आप खुद को रोक नहीं पा रहे, तो आप क्या कर सकते हैं? यह अभ्यास आपकी मदद कर सकता है, “गंदी तसवीरों से कैसे नज़र फेरें।”

यकीन रखिए कि आप गंदी तसवीरों से अपनी नज़र फेर सकते हैं। और अगर आपको इसकी आदत है तब भी आप इसे छुड़ाना सीख सकते हैं। ऐसा करने से आपको ही फायदा होगा!

केलविन को ही लीजिए। वह बताता है कि 13 साल की उम्र से ही उसे गंदी तसवीरें देखने की आदत लग गयी थी। वह कहता है, “मुझे मालूम था कि यह गलत है, मगर मैं खुद को रोक ही नहीं पा रहा था। और देखने के बाद मुझे बहुत ही बुरा लगता था। आखिर में मेरे पापा को पता चल गया और सच पूछो तो मैं इस बात से खुश था! यह आदत छुड़ाने के लिए मुझे जिस मदद की ज़रूरत थी वह मुझे मिल गयी।”

केलविन ने गंदी तसवीरों से नज़र फेरना सीख लिया। वह कहता है, “गंदी तसवीरें देखने की बड़ी गलती करके मैं आज तक पछता रहा हूँ, क्योंकि जो मैंने देखा वह आज भी मेरी आँखों के सामने आ जाता है। अभी-भी कई बार मेरा मन गंदी तसवीरें देखने के लिए ललचाने लगता है, मगर तभी मैं खुद को याद दिलाता हूँ कि यहोवा परमेश्वर की मरज़ी के मुताबिक काम करने से मैं कितना खुश हूँ, मेरा ज़मीर साफ है और मेरे पास एक अच्छे भविष्य की आशा है। इस तरह मैं अपनी बुरी इच्छा से लड़ पाता हूँ।”