इस जानकारी को छोड़ दें

विषय-सूची को छोड़ दें

गलील का बिरीया जंगल

क्या आप जानते थे?

क्या आप जानते थे?

क्या प्राचीन इसराएल में इतने घने जंगल होते थे जितने कि बाइबल में बताए गए हैं?

बाइबल बताती है कि वादा किए गए देश के कुछ इलाकों में जंगल थे और वहाँ “बहुतायत” में पेड़ थे। (1 राजा 10:27; यहो. 17:15, 18) लेकिन आज उस देश के ज़्यादातर इलाकों में पेड़ नज़र नहीं आते। इस वजह से कुछ लोग शायद शक करें कि क्या वहाँ वाकई कभी जंगल रहे होंगे।

गूलर के फलों का एक बड़ा गुच्छा

बाइबल के इसराएल में ज़िंदगी (अँग्रेज़ी) किताब इस बारे में समझाती है कि “आज के मुकाबले पुराने ज़माने के इसराएल में जंगल कहीं ज़्यादा थे।” पहाड़ी इलाके के जंगलों में ज़्यादातर पेड़ एलीपो चीड़ (पाइनस हेलेपैनसिस), सदाबहार ओक (क्वरकस कैलिप्रिनोस) और बांज-वृक्ष (पिसटाकिया पैलेसटिना) के थे। बड़े पहाड़ और भूमध्य सागर के बीच छोटी-छोटी पहाड़ियों के इलाके में गूलर के पेड़ (फिकस साइकोमोरस) भी बहुतायत में थे। इस इलाके को शिफेला नाम से जाना जाता है।

बाइबल के ज़माने के पेड़-पौधे (अँग्रेज़ी) किताब कहती है कि आज इसराएल देश के कुछ इलाकों में नाम के लिए भी पेड़-पौधे नहीं हैं। यह नौबत कैसे आयी? यही किताब कहती है कि यह सब धीरे-धीरे हुआ। किताब यह भी बताती है, ‘इंसान हमेशा पेड़-पौधों से खिलवाड़ करता आया है। वह अपनी खेती-बाड़ी और चरागाह का इलाका बढ़ाने, साथ ही, मकान बनाने में लकड़ी इस्तेमाल करने और आग जलाने के लिए लगातार पेड़ काटता रहा है।’