इस जानकारी को छोड़ दें

सैकेंडरी मैन्यू को छोड़ दें

यहोवा के साक्षी

हिंदी

विश्व मुख्यालय के लिए नयी जगह

विश्व मुख्यालय के लिए नयी जगह

1909 से यहोवा के साक्षियों का विश्व मुख्यालय न्यू यॉर्क ब्रुकलिन में काम कर रहा है। जुलाई 2009 में मुख्यालय को वहाँ से 80 किलोमीटर दूर पश्चिमोत्तर की तरफ ले जाने का फैसला लिया गया, जिसके लिए उधर 253 एकड़ ज़मीन खरीदी गयी।

इस नयी जगह पर करीब 800 साक्षी काम करेंगे और रहेंगे। वहाँ पर एक इमारत में ऑफिस होंगे, दूसरी इमारत में वहाँ की देख-रेख करने के विभाग होंगे और चार इमारतों में रहने के लिए कमरे होंगे। योजना बनायी गयी है कि इसमें एक म्यूज़ियम या संग्रहालय भी बनाया जाए, जिसमें यहोवा के साक्षियों का इतिहास भी पेश किया जाएगा।

जहाँ पर ज़मीन खरीदी गयी है वहाँ हरा-भरा जंगल है। क्योंकि हम इसकी खूबसूरती को बरकरार रखना चाहते हैं इसलिए 253 एकड़ में से सिर्फ 45 एकड़ ज़मीन ही इस्तेमाल की जा रही है।

हम चाहते हैं कि ना तो आस-पास के पर्यावरण को नुकसान पहुँचे और ना ही इसकी देख-रेख में ज़्यादा खर्चा हो। इसलिए हमारे आर्किटेक्ट इमारतों को इस तरह बना रहे हैं, जिनमें बिजली की खपत कम-से-कम हो। उदाहरण के लिए इमारतों की छतों पर ऐसे पौधे लगाए जाएँगे जो हर मौसम को झेल सकें और जिनकी ज़्यादा देखभाल ना करनी पड़े। इससे बारिश का पानी छत पर से छनकर धीरे-धीरे बहेगा और इमारत के अंदर का तापमान भी सही बना रहेगा। ऑफिस इस तरह से बनाए जाएँगे, जिनमें सूरज की रौशनी आसानी से अंदर आ सके। इसके अलावा पानी बचाने पर भी बहुत ध्यान दिया जाएगा।

विश्व मुख्यालय को ब्रुकलिन से दूसरी जगह ले जाने की योजना क्यों बनायी गयी? एक कारण यह है कि पहले छपाई का काम सिर्फ ब्रुकलिन में हुआ करता था पर अब दुनिया के दूसरे देशों में भी यहोवा के साक्षियों के शाखा दफ्तर यह काम कर रहे हैं। इसके अलावा सन्‌ 2004 में छपाई और शिपिंग का काम ब्रुकलिन शहर से हटाकर वॉलकिल शहर में किया जाने लगा है। यह जगह ब्रुकलिन से करीब 145 किलोमीटर दूर पश्चिमोत्तर में है।

एक और कारण था खर्चा कम करना। ब्रुकलिन में काम करना और अलग-अलग जगहों पर खड़ी इमारतों की देखभाल करना काफी महँगा पड़ता है। अब सारे काम और इमारतें एक ही जगह पर होंगी, जिसकी वजह से खर्चा कम होगा। जो पैसा बचेगा उसका इस्तेमाल बाइबल की शिक्षा देने के काम में किया जाएगा।

परमिट देने से पहले सरकारी अधिकारी यह जाँच-पड़ताल करेंगे कि कहीं हमारे काम से पर्यावरण को कोई नुकसान तो नहीं पहुँचेगा। अगर सब ठीक रहा तो सन्‌ 2013 से यहाँ काम शुरू हो जाएगा और चार साल में विश्व मुख्यालय बनकर तैयार हो जाएगा।

वॉलकिल शहर में छपाई के काम के अलावा यहोवा के साक्षी पैटरसन शहर में बाइबल स्कूल और बहुत-से देशों में शाखा दफ्तर भी चलाते हैं। दुनिया भर में 75 लाख से भी ज़्यादा यहोवा के साक्षी हैं।