इस जानकारी को छोड़ दें

विषय-सूची को छोड़ दें

यहोवा के साक्षी

भाषा चुनें हिंदी

पहला इतिहास 2:1-55

सारांश

  • इसराएल के 12 बेटे (1, 2)

  • यहूदा के वंशज (3-55)

2  ये इसराएल के बेटे थे: रूबेन,+ शिमोन,+ लेवी,+ यहूदा,+ इस्साकार,+ जबूलून,+  दान,+ यूसुफ,+ बिन्यामीन,+ नप्ताली,+ गाद+ और आशेर।+  यहूदा के बेटे थे एर, ओनान और शेलह। यहूदा के ये तीनों बेटे एक कनानी औरत से पैदा हुए थे जो शूआ की बेटी थी।+ मगर यहूदा का पहलौठा एर यहोवा की नज़र में दुष्ट था इसलिए परमेश्‍वर ने उसे मार डाला।  यहूदा के बेटे पेरेस+ और जेरह, उसकी बहू तामार+ से पैदा हुए। यहूदा के कुल मिलाकर पाँच बेटे थे।  पेरेस के बेटे थे हेसरोन और हामूल।  जेरह के बेटे थे जिमरी, एतान, हेमान, कलकोल और देरा। उसके कुल पाँच बेटे थे।  करमी का बेटा था* आकार* जो इसराएल पर आफत* ले आया था।+ वह उन चीज़ों के मामले में विश्‍वासयोग्य नहीं रहा जो नाश के लायक ठहरायी गयी थीं।+  एतान का बेटा था* अजरयाह।  हेसरोन के बेटे थे यरहमेल,+ राम+ और कलूबै।* 10  राम का बेटा अम्मीनादाब था।+ अम्मीनादाब का बेटा नहशोन था,+ जो यहूदा के वंशजों का प्रधान था। 11  नहशोन का बेटा सलमा था।+ सलमा का बेटा बोअज़+ था। 12  बोअज़ का बेटा ओबेद था। ओबेद का बेटा यिशै था।+ 13  यिशै के बेटे थे उसका पहलौठा एलीआब, दूसरा अबीनादाब,+ तीसरा शिमा,+ 14  चौथा नतनेल, पाँचवाँ रद्दै, 15  छठा ओसेम और सातवाँ दाविद।+ 16  उनकी बहनें थीं सरूयाह और अबीगैल।+ सरूयाह के तीन बेटे थे अबीशै,+ योआब+ और असाहेल।+ 17  अबीगैल से अमासा+ पैदा हुआ। अमासा का पिता इश्‍माएली येतेर था। 18  कालेब* (जो हेसरोन का बेटा था) की पत्नी अजूबाह से और यरीओत से उसके बेटे हुए। उसके बेटे थे येशेर, शोबाब और अरदोन। 19  अजूबाह की मौत के बाद कालेब ने एप्रात से शादी की और एप्रात से उसका बेटा हूर+ पैदा हुआ। 20  हूर का बेटा ऊरी था। ऊरी का बेटा बसलेल था।+ 21  बाद में हेसरोन ने माकीर+ (जो गिलाद का पिता था)+ की बेटी से शादी की। तब वह 60 साल का था। जब हेसरोन ने उसके साथ संबंध रखे तो उसका बेटा सगूब पैदा हुआ। 22  सगूब का बेटा याईर+ था जिसके गिलाद के इलाके+ में 23 शहर थे। 23  बाद में गशूर+ और सीरिया+ ने उनसे हव्वोत-याईर+ ले लिया। साथ ही कनात+ और उसके आस-पास के नगर भी ले लिए। उन्होंने कुल मिलाकर 60 शहर ले लिए। ये सभी गिलाद के पिता माकीर के वंशज थे। 24  कालेब-एप्राता में हेसरोन+ की मौत के बाद, हेसरोन की पत्नी अबियाह से उसका बेटा अशहूर+ पैदा हुआ जो तकोआ+ का पिता था।* 25  हेसरोन के पहलौठे यरहमेल के बेटे ये थे: पहलौठा राम, फिर बूना, ओरेन, ओसेम और अहियाह। 26  यरहमेल की एक और पत्नी थी जिसका नाम अतारा था। वह ओनाम की माँ थी। 27  यरहमेल के पहलौठे राम के बेटे थे मास, यामीन और एकेर। 28  ओनाम के बेटे थे शम्मै और यादा। शम्मै के बेटे थे नादाब और अबीशूर। 29  अबीशूर की पत्नी का नाम अबीहैल था जिसने उसके बेटे अहबान और मोलीद को जन्म दिया। 30  नादाब के बेटे थे सेलेद और अप्पैम। मगर सेलेद बेऔलाद मर गया। 31  अप्पैम का बेटा था* यिशी। यिशी का बेटा था* शेशान और शेशान का बेटा था* अहलै। 32  शम्मै के भाई यादा के बेटे थे येतेर और योनातान। मगर येतेर बेऔलाद मर गया। 33  योनातान के बेटे थे पीलेत और ज़ाज़ा। ये सभी यरहमेल के वंशज थे। 34  शेशान का कोई बेटा नहीं था सिर्फ बेटियाँ थीं। शेशान का एक मिस्री सेवक था जिसका नाम यरहा था। 35  शेशान ने अपनी बेटी की शादी अपने सेवक यरहा से करायी जिसने यरहा के बेटे अत्तै को जन्म दिया। 36  अत्तै का बेटा नातान था। नातान का बेटा जाबाद था। 37  जाबाद का बेटा एपलाल था। एपलाल का बेटा ओबेद था। 38  ओबेद का बेटा येहू था। येहू का बेटा अजरयाह था। 39  अजरयाह का बेटा हेलेस था। हेलेस का बेटा एलिआसा था। 40  एलिआसा का बेटा सिस्मै था। सिस्मै का बेटा शल्लूम था। 41  शल्लूम का बेटा यकम्याह था। यकम्याह का बेटा एलीशामा था। 42  यरहमेल के भाई कालेब*+ के बेटे ये थे: उसका पहलौठा मेशा जो ज़ीफ का पिता था और मारेशाह के बेटे। मारेशाह का बेटा हेब्रोन था। 43  हेब्रोन के बेटे थे कोरह, तप्पूह, रेकेम और शमा। 44  शमा का बेटा रहम था, जो योरकाम का पिता था। रेकेम का बेटा शम्मै था। 45  शम्मै का बेटा माओन था। माओन बेत-सूर+ का पिता था। 46  कालेब की उप-पत्नी एपा ने हारान, मोसा और गाजेज को जन्म दिया। हारान का बेटा गाजेज था। 47  याहदै के बेटे थे रेगेम, योताम, गेशान, पेलेत, एपा और शाफ। 48  कालेब की उप-पत्नी माका ने शेबेर और तिरहाना को जन्म दिया। 49  बाद में माका ने इनको जन्म दिया: शाफ जो मदमन्‍ना+ का पिता था, शेवा जो मकबेना और गिबा+ का पिता था। कालेब की बेटी अकसा थी।+ 50  ये सभी कालेब के वंशज थे। एप्राता के पहलौठे हूर के बेटे ये थे: शोबाल जो किरयत-यारीम+ का पिता था, 51  सलमा जो बेतलेहेम+ का पिता था और हारेप जो बेत-गादेर का पिता था। 52  शोबाल जो किरयत-यारीम का पिता था, उसके बेटे ये थे: हारोए और मनुहोत के आधे निवासी। 53  किरयत-यारीम में रहनेवाले घराने ये थे: यित्री,+ पूती, शूमाती और मिश्राई। इन्हीं में से सोरा और एशताओल+ के निवासी निकले। 54  सलमा के बेटे थे बेतलेहेम,+ नतोपा और अतरोत-बेत-योआब के निवासी, मानहत के आधे निवासी और सोरी लोग। 55  याबेस में रहनेवाले शास्त्रियों के घराने थे तिराती, शिमाती और सूकाती। ये वे केनी लोग+ थे जो हम्मत के वंशज थे। हम्मत, रेकाब+ के घराने का पिता था।

कई फुटनोट

शा., “के बेटे थे।”
मतलब “आफत लानेवाला; घोर संकट लानेवाला।” यह 7:1 में इसका दूसरा नाम आकान है।
या “मुसीबत; घोर संकट।”
शा., “के बेटे थे।”
आय. 18, 19, 42 में इसका दूसरा नाम कालेब है।
आय. 9 में इसका दूसरा नाम कलूबै है।
इस अध्याय में कुछ नाम लोगों के नहीं बल्कि जगहों के हैं। उन आयतों में “पिता” का शायद मतलब उस जगह को बसानेवाला है।
शा., “के बेटे थे।”
शा., “के बेटे थे।”
शा., “के बेटे थे।”
आय. 9 में इसका दूसरा नाम कलूबै है।