इस जानकारी को छोड़ दें

विषय-सूची को छोड़ दें

यहोवा के साक्षी

भाषा चुनें हिंदी

यिर्मयाह 24:1-10

सारांश

  • अच्छे और खराब अंजीर (1-10)

24  जब बैबिलोन का राजा नबूकदनेस्सर,* यहोयाकीम के बेटे+ और यहूदा के राजा यकोन्याह* को और उसके साथ यहूदा के हाकिमों, कारीगरों और धातु-कारीगरों* को बंदी बनाकर यरूशलेम से बैबिलोन ले गया,+ तो उसके बाद यहोवा ने मुझे अंजीरों से भरी दो टोकरियाँ दिखायीं। ये टोकरियाँ यहोवा के मंदिर के सामने रखी हुई थीं।  एक टोकरी में बहुत अच्छे अंजीर थे, जैसे शुरू की फसल के अंजीर होते हैं। दूसरी टोकरी में खराब अंजीर थे, इतने खराब कि वे खाए नहीं जा सकते थे।  फिर यहोवा ने मुझसे पूछा, “यिर्मयाह, तुझे क्या दिखायी दे रहा है?” मैंने कहा, “मुझे अंजीर दिखायी दे रहे हैं। अच्छे अंजीर तो बहुत बढ़िया हैं, मगर खराब अंजीर इतने खराब हैं कि वे खाए नहीं जा सकते।”+  तब यहोवा का यह संदेश मेरे पास पहुँचा:  “इसराएल का परमेश्‍वर यहोवा कहता है, ‘यहूदा के जिन लोगों को मैंने यहाँ से कसदियों के देश में बँधुआई में भेज दिया है, वे मेरे लिए इन अच्छे अंजीरों जैसे हैं। मैं उनके साथ भला करूँगा।  मैं उनके अच्छे के लिए उन पर नज़र रखूँगा और उन्हें इस देश में लौटा ले आऊँगा।+ मैं उन्हें बनाऊँगा और नहीं ढाऊँगा, मैं उन्हें लगाऊँगा और जड़ से नहीं उखाड़ूँगा।+  मैं उन्हें ऐसा दिल दूँगा जिससे वे जानें कि मैं यहोवा हूँ।+ वे मेरे लोग होंगे और मैं उनका परमेश्‍वर होऊँगा,+ क्योंकि वे पूरे दिल से मेरे पास लौटेंगे।+  मगर इन खराब अंजीरों के बारे में, जो इतने खराब हैं कि वे खाए नहीं जा सकते,+ यहोवा कहता है, “मैं यहूदा के राजा सिदकियाह,+ उसके हाकिमों, इस देश में बचे हुए यरूशलेम के लोगों और मिस्र में रहनेवालों को इन खराब अंजीरों जैसा समझूँगा।+  मैं उन पर ऐसी विपत्ति लाऊँगा और उनका ऐसा हश्र करूँगा कि धरती के सब राज्य देखकर दहल जाएँगे।+ मैं उन्हें जिन जगहों में तितर-बितर करूँगा,+ वहाँ उनका मज़ाक उड़ाया जाएगा, उन पर कहावत बनायी जाएगी, उनकी खिल्ली उड़ायी जाएगी और उन्हें शाप दिया जाएगा।+ 10  मैं उन पर तब तक तलवार,+ अकाल और महामारी*+ भेजता रहूँगा जब तक कि वे इस देश से मिट नहीं जाते, जो मैंने उन्हें और उनके पुरखों को दिया था।”’”

कई फुटनोट

शा., “नबूकदरेस्सर।” यह एक अलग वर्तनी है।
यहोयाकीन और कोन्याह भी कहलाता था।
या शायद, “सुरक्षा-दीवार बनानेवालों।”
या “बीमारी।”