इस जानकारी को छोड़ दें

सैकेंडरी मैन्यू को छोड़ दें

विषय-सूची को छोड़ दें

यहोवा के साक्षी

हिंदी

ऑनलाइन बाइबल | पवित्र शास्त्र का नयी दुनिया अनुवाद

भजन 53:1-6

सारांश

  • मूर्खों का ब्यौरा

    • “कोई यहोवा नहीं” (1)

    • “कोई भी भला काम नहीं करता” (3)

दाविद की रचना। निर्देशक के लिए हिदायत: महलत की शैली* में। मश्‍कील।* 53  मूर्ख* मन में कहता है, “कोई यहोवा नहीं।”+ ऐसे लोगों के काम बुरे होते हैं, भ्रष्ट और घिनौने होते हैं,कोई भी भला काम नहीं करता।+   मगर परमेश्‍वर स्वर्ग से इंसानों को देखता है+कि क्या कोई अंदरूनी समझ रखनेवाला है,क्या कोई यहोवा की खोज करनेवाला है।+   वे सब भटक गए हैं,सब-के-सब भ्रष्ट हो गए हैं। कोई भी भला काम नहीं करता, एक भी नहीं।+   क्या गुनहगारों में से कोई भी समझ नहीं रखता? वे मेरे लोगों को ऐसे खा जाते हैं मानो रोटी हो। वे यहोवा को नहीं पुकारते।+   मगर उन सब पर खौफ छा जाएगा,ऐसा आतंक जो उन्होंने पहले कभी महसूस नहीं किया,*क्योंकि परमेश्‍वर तेरे हमलावरों* की हड्डियाँ बिखरा देगा। तू उन्हें शर्मिंदा करेगा क्योंकि यहोवा ने उन्हें ठुकरा दिया है।   इसराएल का उद्धार सिय्योन की तरफ से हो!+ जब यहोवा अपने लोगों को बँधुआई से लौटा ले आएगा,तब याकूब खुशियाँ मनाए, इसराएल जश्‍न मनाए।

कई फुटनोट

शब्दावली देखें।
शब्दावली देखें।
या “नासमझ।”
या शायद, “वहाँ जहाँ डरने की कोई वजह नहीं थी।”
शा., “तेरे खिलाफ छावनी डालनेवालों।”