इस जानकारी को छोड़ दें

सैकेंडरी मैन्यू को छोड़ दें

विषय-सूची को छोड़ दें

यहोवा के साक्षी

हिंदी

ऑनलाइन बाइबल | पवित्र शास्त्र का नयी दुनिया अनुवाद

उत्पत्ति 10:1-32

सारांश

  • जातियों की सूची (1-32)

    • येपेत के वंशज (2-5)

    • हाम के वंशज (6-20)

      • यहोवा का विरोधी निमरोद (8-12)

    • शेम के वंशज (21-31)

10  यह है नूह के बेटे शेम,+ हाम और येपेत का ब्यौरा। जलप्रलय के बाद इन तीनों के बेटे पैदा हुए।+  येपेत के बेटे थे गोमेर,+ मागोग,+ मादई, यावान, तूबल,+ मेशेक+ और तीरास।+  गोमेर के बेटे थे अशकनज,+ रीपत और तोगरमा।+  यावान के बेटे थे एलीशाह,+ तरशीश,+ कित्तीम+ और दोदानी।  इन्हीं से वे लोग निकले जो द्वीपों में बस गए थे। बाद में वे अपनी-अपनी भाषा, कुल और जाति के मुताबिक अलग-अलग इलाकों में जा बसे।  हाम के बेटे थे कूश, मिसरैम,+ पुट+ और कनान।+  कूश के बेटे थे सबा,+ हवीला, सबता, रामा+ और सब-तका। रामा के बेटे थे शीबा और ददान।  कूश का एक और बेटा था, निमरोद। निमरोद दुनिया का पहला ऐसा आदमी था जिसने बहुत ताकत हासिल की थी।  वह यहोवा के खिलाफ काम करनेवाला एक ताकतवर शिकारी बना। इसलिए कुछ लोगों की तुलना निमरोद से की जाती है और कहा जाता है, “यह बिलकुल निमरोद जैसा है जो यहोवा के खिलाफ काम करनेवाला ताकतवर शिकारी था।” 10  उसके राज के शुरूआती शहर थे बाबेल,*+ एरेख,+ अक्कद और कलने जो शिनार के इलाके+ में थे। 11  फिर शिनार से वह अश्‍शूर+ गया और वहाँ उसने नीनवे,+ रहोबोत-ईर, कालह 12  और रेसेन नाम के शहर बसाए। रेसेन, नीनवे और कालह के बीच पड़ता है। यही बड़ा शहर है।* 13  मिसरैम के बेटे थे लूदी,+ अनामी, लहाबी, नपतूही,+ 14  पत्रूसी,+ कसलूही (इससे पलिश्‍ती जाति+ निकली) और कप्तोरी।*+ 15  कनान के बेटे थे उसका पहलौठा सीदोन,+ फिर हित्त,+ 16  यबूसी,+ एमोरी,+ गिरगाशी, 17  हिव्वी,+ अरकी, सीनी, 18  अरवादी,+ समारी और हमाती।+ बाद में कनानियों के कुल अलग-अलग जगहों में जा बसे। 19  कनानियों की सरहद सीदोन से लेकर दूर गाज़ा+ के पास गरार+ तक और लाशा के पास सदोम, अमोरा,+ अदमा और सबोयीम+ तक फैली थी। 20  ये हाम के बेटे थे जिनके कुलों से अलग-अलग जातियाँ निकलीं। ये जातियाँ अपनी-अपनी भाषा के मुताबिक अलग-अलग इलाकों में जा बसीं। 21  शेम के भी बच्चे हुए, जिसका सबसे बड़ा भाई येपेत था।* शेम एबेर+ के सभी बेटों का पुरखा था। 22  शेम के बेटे थे एलाम,+ अस्सूर,+ अरपक्षद,+ लूद और अराम।+ 23  अराम के बेटे थे ऊज़, हूल, गेतेर और मश। 24  अरपक्षद का बेटा शेलह+ था और शेलह का बेटा एबेर था। 25  एबेर के दो बेटे थे। एक का नाम पेलेग*+ था क्योंकि उसके दिनों में धरती* का बँटवारा हुआ था। उसके भाई का नाम योकतान+ था। 26  योकतान के बेटे थे अल्मोदाद, शेलेप, हसरमावेत, येरह,+ 27  हदोराम, ऊजाल, दिक्ला, 28  ओबाल, अबीमाएल, शीबा, 29  ओपीर,+ हवीला और योबाब। ये सब योकतान के बेटे थे। 30  इन लोगों के रहने का इलाका मेशा से लेकर दूर पूरब में सपारा के पहाड़ी प्रदेश तक फैला था। 31  ये शेम के बेटे थे जिनके कुलों से अलग-अलग जातियाँ निकलीं। ये जातियाँ अपनी-अपनी भाषा के मुताबिक अलग-अलग इलाकों में जा बसीं।+ 32  ये सभी नूह के बेटों के खानदान और उनसे निकले कुल हैं। इन्हीं से अलग-अलग जातियाँ बनीं जो जलप्रलय के बाद पूरी धरती पर जा बसीं।+

कई फुटनोट

यानी बैबिलोन।
ज़ाहिर है, नीनवे, रहोबोत-ईर, कालह और रेसेन को मिलाकर बड़ा शहर माना जाता था।
शायद ये उन जातियों के नाम हैं जो मिसरैम से निकलीं।
या शायद, “जो येपेत का बड़ा भाई था।”
मतलब “बँटवारा।”
या “धरती की आबादी।”