इस जानकारी को छोड़ दें

सैकेंडरी मैन्यू को छोड़ दें

विषय-सूची को छोड़ दें

यहोवा के साक्षी

हिंदी

प्रहरीदुर्ग  |  अप्रैल 2014

 ज़िंदगी सँवार देती है बाइबल

फिरदौस की आशा से मेरी ज़िंदगी बदल गयी!

फिरदौस की आशा से मेरी ज़िंदगी बदल गयी!
  • जन्म: 1974

  • देश: लातविया

  • उसका अतीत: जान पर खेलकर बाइक रेस में हिस्सा लेना

मेरा बीता कल:

मेरा जन्म लातविया की राजधानी रीगा में हुआ। मेरी और मेरी बहन की परवरिश माँ ने की। हालाँकि माँ कैथोलिक धर्म से थी, लेकिन हम सिर्फ त्योहारों के दिन ही चर्च जाते थे। मैं शुरू से ही मानता था कि दुनिया में एक ताकतवर शक्‍ति है। मगर जवान होते-होते मेरा ध्यान भटकने लगा क्योंकि मेरे शौक बढ़ने लगे थे।

जैसे-जैसे मैं बड़ा होता गया मेरी माँ ने गौर किया कि मुझमें चीज़ों को खोलकर, उन्हें फिर से जोड़ने का हुनर है। और घर पर ऐसी बहुत-सी चीज़ें थीं जो खोली जा सकती थीं, इस डर से माँ मुझे घर पर अकेला छोड़कर नहीं जाना चाहती थी। इसलिए माँ ने मुझे धातु से बना एक खिलौना दिया, जिसे खोलना और जोड़ना मुझे बहुत अच्छा लगता था। इस रुचि के साथ-साथ एक और चीज़ में मेरा जुनून बढ़ता चला गया और वह था मोटरबाइक चलाना। मेरी माँ ने एक मोटरबाइक रेस जिसे ज़ेल्टा मोपेड्स (गोल्डन मोपेड) कहा जाता था, उसमें मेरा नाम लिखवा दिया। मैंने अपनी रेस, मोपेड से शुरू की और बाद में मोटरसाइकिल रेस करने लगा।

मैं कम समय में चीज़ों को सीख लेता था, इसलिए इस तेज़ और खतरनाक खेल में जल्द ही सफलता मेरे कदम चूमने लगी। तीन बार मैंने अलग-अलग तरह की मोटरसाइकल रेस में लातवियन चैम्पियनशिप और दो बार बाल्टिक राज्य सुपरबाइक चैम्पियनशिप जीती।

बाइबल ने किस तरह मेरी ज़िंदगी सँवार दी:

जब मेरा करियर बुलंदियों पर था, तब मेरी दोस्त ईविजा (जो आगे चलकर मेरी पत्नी बनी) यहोवा के साक्षियों के संपर्क में आयी। उसे एक साहित्य मिला, जिसके नीचे बाइबल अध्ययन की गुज़ारिश का कूपन था। उसने वह कूपन भरकर पोस्ट कर दिया। जल्द ही, दो यहोवा के साक्षी उससे मिलने आए और वह उनके साथ बाइबल अध्ययन करने लगी। मुझे इससे कोई एतराज़ नहीं था लेकिन उस वक्‍त मुझे आध्यात्मिक बातों में कोई खास दिलचस्पी नहीं थी।

कुछ समय बाद, साक्षियों ने मुझे भी ईविजा के साथ बाइबल अध्ययन में बैठने के लिए कहा। मैं राज़ी हो गया और उनकी बातें सुनकर मुझे अच्छा लगा। एक बात जो खासतौर से मेरे दिल को छू गयी वह थी, बाइबल का यह वादा कि धरती फिरदौस में बदल जाएगी। मिसाल के लिए, मुझे बाइबल से भजन 37:10,11 दिखाया गया जो कहता है, “थोड़े दिन  के बीतने पर दुष्ट रहेगा ही नहीं; और तू उसके स्थान को भली भांति देखने पर भी उसको न पाएगा। परन्तु नम्र लोग पृथ्वी के अधिकारी होंगे, और बड़ी शान्ति के कारण आनन्द मनाएंगे।” सचमुच इस वादे का मुझ पर गहरा असर हुआ।

आध्यात्मिक बातों में मेरी दिलचस्पी बढ़ती गयी। मुझे एहसास हो गया कि दुनिया में कितने धार्मिक झूठ हैं। इसके उलट बाइबल की शिक्षाओं से मुझे बहुत ताज़गी मिली, जो एकदम साफ और सही थी।

जैसे-जैसे मैं बाइबल का अध्ययन करता गया, मैंने सीखा कि यहोवा जीवन को कितना अनमोल समझता है। (भजन 36:9) इस बात का मेरी रेस पर ज़बरदस्त असर हुआ। अब मैं अपनी जान जोखिम में नहीं डालना चाहता था। इसके बजाय, मैं अपनी पूरी ज़िंदगी यहोवा की महिमा करना चाहता था। मुझे मोटरसाइकिल रेस से जो रोमांच मिलता था और जो नाम और शोहरत मैंने पायी थी, अब वह मेरे लिए कोई मायने नहीं रखती थी।

मैं समझ गया कि जीवन देनेवाले की तरफ मेरी भी एक ज़िम्मेदारी बनती है

सन्‌ 1996 में, मैं यहोवा के साक्षियों के एक अंतर्राष्ट्रीय अधिवेशन में गया। यह अधिवेशन एस्टोनिया के टाल्लीन शहर में था, जो उस स्टेडियम से ज़्यादा दूर नहीं था जहाँ मैं अकसर रेस किया करता था। अधिवेशन में मैंने देखा कि अलग-अलग देशों से आए लोग इकट्ठे हैं, फिर भी वहाँ एकता और शांति का माहौल है। मिसाल के लिए, जब एक साक्षी का पर्स गुम हो गया था तो मुझे लगा कि अब उसका पर्स कभी नहीं मिलेगा। लेकिन थोड़ी ही देर बाद, एक दूसरे साक्षी को उसका पर्स मिला और उसने वह पर्स उसे लौटा दिया और उसमें से एक भी चीज़ गायब नहीं हुई थी। यह देखकर मैं दंग रह गया! अब मैं समझ गया कि यहोवा के साक्षी सचमुच बाइबल के ऊँचे स्तरों के मुताबिक जीते हैं। ईविजा और मैंने अपना बाइबल अध्ययन जारी रखा और हम तरक्की करते गए। सन्‌ 1997 में हमने बपतिस्मा लिया और यहोवा के साक्षी बन गए।

मुझे क्या फायदा हुआ:

मेरे कई दोस्तों की मौत तेज़ मोटरसाइकिल चलाने की वजह से हुई। बाइबल का अध्ययन करने पर मैं समझ गया कि जीवन देनेवाले यहोवा की तरफ मेरी भी एक ज़िम्मेदारी बनती है। शायद इसी वजह से मेरी ज़िंदगी बच गयी।

ईविजा और मुझे, रीगा में यहोवा के साक्षियों के शाखा दफ्तर में चार साल सेवा करने का सम्मान मिला। अब हम अपनी बेटी ऐलिस की परवरिश करने में खुशी पा रहे हैं और यहोवा के लिए प्यार बढ़ाने में उसकी मदद कर रहे हैं। हफ्ते के एक दिन, मैं अनुवाद दफ्तर में कार और दूसरी चीज़ों की मरम्मत करने में बिताता हूँ। मुझे खुशी है कि बचपन से ही मेरे अंदर जो हुनर था, उसका मैं अच्छी तरह इस्तेमाल कर पा रहा हूँ। आज भी मैं चीज़ों को खोलता हूँ और जोड़ता हूँ।

परिवार के साथ मिलकर, एकमात्र सच्चे परमेश्वर के बारे में गवाही देने का जो सम्मान मुझे मिला है, मैं उसकी बहुत कदर करता हूँ। जी हाँ, फिरदौस की आशा से मेरी ज़िंदगी बदल गयी! ▪ (w14-E 02/01)