इस जानकारी को छोड़ दें

सैकेंडरी मैन्यू को छोड़ दें

विषय-सूची को छोड़ दें

यहोवा के साक्षी

हिंदी

परमेश्वर की सुनिए और हमेशा जीवित रहिए

 भाग 3

शुरू में ज़िंदगी कैसी थी?

शुरू में ज़िंदगी कैसी थी?

यहोवा ने आदम और हव्वा को बहुत-सी अच्छी चीज़ें दीं। उत्पत्ति 1:28

यहोवा ने आदम के लिए एक पत्नी बनायी। वह दुनिया की सबसे पहली स्त्री थी और उसका नाम था हव्वा।—उत्पत्ति 2:21, 22.

यहोवा ने उनके दिमाग और शरीर को परिपूर्ण बनाया था यानी उनमें कोई कमी नहीं थी।

वे दोनों अदन बाग में रहते थे, जो बहुत ही सुंदर था। उसमें नदियाँ बहती थीं, तरह-तरह के फलों के पेड़ और जानवर थे।

यहोवा उनसे बातें करता था। उसने उन्हें बहुत कुछ सिखाया। अगर वे उसकी सुनते तो वे खुशियों भरे उस सुंदर बाग यानी फिरदौस में हमेशा तक जी सकते थे।

 परमेश्वर ने कहा कि एक पेड़ का फल मत खाना। उत्पत्ति 2:16, 17

यहोवा ने आदम और हव्वा को एक पेड़ दिखाकर कहा कि उस पेड़ का फल मत खाना, नहीं तो मर जाओगे।

एक स्वर्गदूत परमेश्वर के खिलाफ हो गया। उस दुष्ट दूत को शैतान या इब्लीस कहते हैं।

शैतान नहीं चाहता था कि आदम और हव्वा यहोवा की बात मानें। उसने एक चाल चली। उसने साँप के ज़रिए हव्वा से कहा कि अगर वह उस फल को खाएगी तो नहीं मरेगी, बल्कि परमेश्वर की तरह बन जाएगी। शैतान साफ झूठ बोल रहा था।—उत्पत्ति 3:1-5.