इस जानकारी को छोड़ दें

सैकेंडरी मैन्यू को छोड़ दें

विषय-सूची को छोड़ दें

यहोवा के साक्षी

हिंदी

परमेश्वर की सुनिए और हमेशा जीवित रहिए

 भाग 8

यीशु की मौत का आपके लिए क्या मतलब है?

यीशु की मौत का आपके लिए क्या मतलब है?

यीशु इसलिए मरा ताकि हमें जीवन मिले। यूहन्ना 3:16

यीशु के मरने के तीन दिन बाद, जब कुछ स्त्रियाँ उसकी कब्र के पास आयीं तो देखा कि वह खाली है। यहोवा ने यीशु को ज़िंदा कर दिया था।

बाद में यीशु अपने प्रेषितों के सामने प्रकट हुआ।

जी हाँ, यहोवा ने यीशु को एक शक्‍तिशाली अमर आत्मिक प्राणी के रूप में ज़िंदा किया। फिर चेलों ने उसे स्वर्ग जाते हुए देखा।

 परमेश्वर ने यीशु को फिर से ज़िंदा किया और अपने राज का राजा बनाया। दानिय्येल 7:13, 14

यीशु ने इंसानों को मौत से छुड़ाने के लिए अपनी ज़िंदगी फिरौती के रूप में दे दी। (मत्ती 20:28) फिरौती की वजह से परमेश्वर हमें हमेशा की ज़िंदगी दे सकता है।

यहोवा ने यीशु को इस धरती का राजा बनाया है। उसके साथ स्वर्ग में राज करने के लिए उसने धरती से 1,44,000 वफादार इंसानों को चुना, जिन्हें स्वर्ग में जीवन दिया जाएगा। यीशु और उसके 1,44,000 साथियों की सरकार धर्मी होगी, जो दरअसल परमेश्वर का राज होगा।—प्रकाशितवाक्य 14:1-3.

परमेश्वर का राज इस धरती को सुंदर बाग बना देगा। युद्ध, अपराध और गरीबी नहीं रहेगी। कोई भूखे पेट नहीं सोएगा। लोग हँसी-खुशी जीएँगे।—भजन 145:16.