इस जानकारी को छोड़ दें

सैकेंडरी मैन्यू को छोड़ दें

विषय-सूची को छोड़ दें

यहोवा के साक्षी

हिंदी

आज कौन यहोवा की मरज़ी पूरी कर रहे हैं?

 पाठ 16

सहायक सेवकों की क्या भूमिका होती है?

सहायक सेवकों की क्या भूमिका होती है?

म्यानमार

सभा का एक कार्यक्रम

सेवा समूह

राज-घर का रख-रखाव

बाइबल बताती है कि मंडली में ज़िम्मेदारियाँ उठाने के लिए मसीही पुरुषों के दो समूह होते हैं: ‘निगरानी करनेवाले और सहायक सेवक।’ (फिलिप्पियों 1:1) आम तौर पर हर मंडली में कई प्राचीन और सहायक सेवक होते हैं। आइए देखें कि सहायक सेवक किस तरह मंडली की सेवा करते हैं।

वे प्राचीनों के निकाय की मदद करते हैं। सहायक सेवकों का यहोवा के साथ मज़बूत रिश्ता होता है, वे भरोसेमंद होते हैं और पूरी लगन से काम करते हैं। उनमें से कुछ जवान होते हैं, तो कुछ बुज़ुर्ग। वे मंडली के छोटे-मोटे मगर ज़रूरी काम करते हैं और ऐसे काम भी जिनमें मेहनत-मशक्कत लगती है। इस तरह की मदद से प्राचीन, मंडली को सिखाने और उसकी देखरेख करने में ज़्यादा ध्यान दे पाते हैं।

वे ज़रूरी मदद देते हैं। सहायक सेवकों में से कुछ भाई, ‘मददगार’ की भूमिका निभाते हैं और सभाओं में आनेवाले सभी लोगों का स्वागत करते हैं। दूसरे भाइयों को शायद साउंड सिस्टम सँभालने, साहित्य बाँटने, मंडली का हिसाब-किताब रखने और भाई-बहनों को प्रचार का इलाका देने का काम सौंपा जाए। इसके अलावा, वे राज-घर के रख-रखाव में भी हाथ बँटाते हैं। कभी-कभी प्राचीन उन्हें मंडली के बुज़ुर्ग भाई-बहनों की मदद करने के लिए कह सकते हैं। सहायक सेवकों को जो भी ज़िम्मेदारी दी जाती है, वे उसे खुशी-खुशी पूरा करते हैं। इस वजह से भाई-बहनों की नज़र में उनकी इज़्ज़त बढ़ जाती है।—1 तीमुथियुस 3:13.

वे मसीही पुरुष होने का एक अच्छा उदाहरण रखते हैं। सहायक सेवकों को उनके अच्छे मसीही गुणों की वजह से चुना जाता है। वे सभाओं में जिस तरह अपना भाग पेश करते हैं, उससे हमारा विश्वास मज़बूत होता है। प्रचार काम में उनकी अच्छी मिसाल देखकर हमारा भी जोश दुगुना हो जाता है। वे प्राचीनों को अच्छा सहयोग देते हैं, जिससे मंडली की एकता और खुशी बढ़ती जाती है। (इफिसियों 4:16) समय के चलते, सहायक सेवक भी प्राचीन की ज़िम्मेदारी उठाने के योग्य बन सकते हैं।

  • सहायक सेवकों में क्या खूबियाँ होती हैं?

  • मंडली का काम-काज अच्छी तरह चलता रहे, इसके लिए सहायक सेवक क्या करते हैं?