इस जानकारी को छोड़ दें

सैकेंडरी मैन्यू को छोड़ दें

विषय-सूची को छोड़ दें

यहोवा के साक्षी

हिंदी

आज कौन यहोवा की मरज़ी पूरी कर रहे हैं?

 पाठ 15

प्राचीन किस तरह मंडली की सेवा करते हैं?

प्राचीन किस तरह मंडली की सेवा करते हैं?

फिनलैंड

सिखाना

हौसला बढ़ाना

गवाही देना

हमारे संगठन में कोई पादरी वर्ग नहीं है, जिसे मंडलियों को सँभालने के लिए तनख्वाह दी जाती हो। इसके बजाय, जैसा मसीही मंडली की शुरूआत में किया जाता था, आज भी काबिल भाइयों को निगरान ठहराया जाता है ताकि वे ‘चरवाहों की तरह परमेश्वर की मंडली की देखभाल करें।’ (प्रेषितों 20:28) परमेश्वर के स्तरों के मुताबिक काबिलीयत रखनेवाले ये निगरान यानी प्राचीन, मंडली में अगुवाई लेते हैं और भाई-बहनों की देखभाल ‘खुशी-खुशी करते हैं, न कि मजबूरी में। वे तत्परता से सेवा करते हैं, न कि बेईमानी की कमाई के लालच से।’ (1 पतरस 5:1-3) वे हमारी खातिर क्या करते हैं?

वे हमारी देखभाल करते हैं और हमारी हिफाज़त करते हैं। प्राचीन, मंडली के भाई-बहनों को बाइबल से निर्देशन देते हैं और उन खतरों से बचाते हैं जो उन्हें यहोवा से दूर ले जा सकते हैं। वे जानते हैं कि यह भारी ज़िम्मेदारी परमेश्वर ने उन्हें दी है, इसलिए वे उसके लोगों पर हुक्म नहीं चलाते, बल्कि उनकी भलाई और खुशी के लिए मेहनत करते हैं। (2 कुरिंथियों 1:24) जिस तरह चरवाहा अपनी एक-एक भेड़ को अच्छी तरह जानता है और उसकी देखभाल करता है, उसी तरह प्राचीन, मंडली के हरेक सदस्य को अच्छी तरह जानने की कोशिश करते हैं।—नीतिवचन 27:23.

वे हमें परमेश्वर की मरज़ी पूरी करना सिखाते हैं। प्राचीन हर हफ्ते मंडली की सभाएँ चलाते हैं और ऐसी बातें बताते हैं जिनसे हमारा विश्वास मज़बूत होता है। (प्रेषितों 15:32) परमेश्वर को समर्पित ये भाई प्रचार काम में भी अगुवाई लेते हैं, हमारे साथ प्रचार में जाते हैं और गवाही देने के अलग-अलग तरीकों में हमें तालीम देते हैं।

वे निजी तौर पर हमारी हौसला-अफज़ाई करते हैं। प्राचीन चाहते हैं कि हममें से हरेक यहोवा के साथ अपना रिश्ता मज़बूत करे। हमारी मदद करने के लिए वे शायद हमारे घर आएँ या राज-घर में ही हमसे बात करें और बाइबल से हमें तसल्ली दें और हमारा हौसला बढ़ाएँ।—याकूब 5:14, 15.

ज़्यादातर प्राचीनों के पास मंडली के अलावा और भी कई ज़िम्मेदारियाँ होती हैं। उन्हें अपनी नौकरी और परिवार पर भी ध्यान देना और उनके लिए समय निकालना होता है। हमें इन मेहनती भाइयों की दिल से इज़्ज़त करनी चाहिए।—1 थिस्सलुनीकियों 5:12, 13.

  • मंडली में प्राचीनों की क्या ज़िम्मेदारी होती है?

  • प्राचीन किन तरीकों से हममें निजी दिलचस्पी दिखाते हैं?