इस जानकारी को छोड़ दें

सैकेंडरी मैन्यू को छोड़ दें

विषय-सूची को छोड़ दें

यहोवा के साक्षी

हिंदी

आज कौन यहोवा की मरज़ी पूरी कर रहे हैं?

परमेश्वर की मरज़ी क्या है?

परमेश्वर की मरज़ी क्या है?

परमेश्वर चाहता है कि इस धरती को सुंदर बगीचे या फिरदौस में तबदील कर दिया जाए और हम यहाँ हमेशा खुश रहें और शांति से जीएँ।

लेकिन शायद आप सोचें, ‘क्या ऐसा हो सकता है?’ बाइबल बताती है कि ऐसा ज़रूर होगा, परमेश्वर का राज यह बदलाव लाएगा। परमेश्वर की मरज़ी है कि सब लोग उसके राज के बारे में जानें और यह भी कि इंसानों के लिए उसका क्या मकसद है।—भजन 37:11, 29; यशायाह 9:7.

परमेश्वर चाहता है कि हमारा भला हो।

जिस तरह एक पिता अपने बच्चों के लिए अच्छे-से-अच्छा चाहता है, उसी तरह स्वर्ग में रहनेवाला हमारा परमेश्वर भी चाहता है कि हमें ऐसी ज़िंदगी मिले जिसमें खुशियाँ-ही-खुशियाँ हों। (यशायाह 48:17, 18) उसने वादा किया है कि ‘जो उसकी मरज़ी पूरी करता है वह हमेशा बना रहेगा।’—1 यूहन्ना 2:17.

परमेश्वर चाहता है कि हम उसकी बतायी राह पर चलें।

बाइबल कहती है कि हमारा सृष्टिकर्ता ‘हमें अपने मार्ग सिखाना’ चाहता है ताकि “हम उसकी राहों पर” चल सकें। (यशायाह 2:2, 3) इसके लिए उसने कुछ लोगों को संगठित किया है, जो उसके “नाम से पहचाने” जाते हैं और जिनके ज़रिए वह धरती के सभी लोगों को अपनी मरज़ी के बारे में बता रहा है।—प्रेषितों 15:14.

परमेश्वर चाहता है कि हम एकजुट होकर उसकी उपासना करें।

यहोवा की शुद्ध उपासना, लोगों में फूट पैदा करने के बजाय उनमें एकता लाती है क्योंकि यह उन्हें एक-दूसरे से सच्चा प्यार करना सिखाती है। (यूहन्ना 13:35) कौन हैं वे लोग जो आज सबको एकजुट होकर परमेश्वर की उपासना करना सिखा रहे हैं? हम चाहेंगे कि इस ब्रोशर के ज़रिए आप इस सवाल का जवाब जानने की कोशिश करें।