इस जानकारी को छोड़ दें

सैकेंडरी मैन्यू को छोड़ दें

विषय-सूची को छोड़ दें

यहोवा के साक्षी

हिंदी

बाइबल से सीखें अनमोल सबक

भाग 11 में क्या है

भाग 11 में क्या है

इस भाग से हम मसीही यूनानी शास्त्र में दी घटनाएँ देखेंगे। यीशु एक गरीब परिवार में पैदा हुआ था जो एक छोटे-से नगर में रहता था। यीशु का पिता एक बढ़ई था और यीशु उसके साथ काम करता था। यीशु ही वह था जो आगे चलकर सभी इंसानों को बचाता। यहोवा ने उसे स्वर्ग के राज का राजा चुना। अगर आपके बच्चे हैं तो उन्हें यह समझने में मदद दीजिए कि यहोवा ने कैसे सोच-समझकर यीशु के लिए एक ऐसा परिवार चुना जिसके सदस्य परमेश्‍वर की भक्‍ति करते थे और जिसके घर का माहौल अच्छा था। समझाइए कि यहोवा ने कैसे यीशु को हेरोदेस के हाथों मार डाले जाने से बचाया और यह भी कि कोई भी चीज़ यहोवा के मकसद को पूरा होने से नहीं रोक सकती। जानिए कि यहोवा ने कैसे यूहन्‍ना को यीशु के लिए रास्ता तैयार करने का काम सौंपा। ज़ोर देकर बताइए कि यीशु को छोटी उम्र से ही यहोवा की बुद्धि-भरी बातों से लगाव था।

इस भाग में

पाठ 68

इलीशिबा का बच्चा हुआ

इलीशिबा के पति जकरयाह से क्यों कहा गया कि बच्चा पैदा होने तक वह बात नहीं कर पाएगा?

पाठ 69

जिब्राईल मरियम के पास आया

उसने मरियम को एक ऐसा संदेश दिया जिससे मरियम की ज़िंदगी बदल गयी।

पाठ 70

स्वर्गदूतों ने यीशु के जन्म की खबर सुनायी

चरवाहों ने खबर सुनकर फौरन कदम उठाया।

पाठ 71

यहोवा ने यीशु की जान बचायी

एक बुरा राजा यीशु को मार डालना चाहता था।

पाठ 72

यीशु का लड़कपन

मंदिर में शिक्षकों ने यीशु में ऐसा क्या देखा कि वे दंग रह गए?

पाठ 73

यूहन्‍ना ने प्रचार किया कि मसीहा आनेवाला है

यूहन्‍ना बड़ा होकर एक भविष्यवक्‍ता बनता है। वह सिखाता है कि मसीहा आ रहा है। उसका संदेश सुनकर लोग क्या करते हैं?