इस जानकारी को छोड़ दें

सैकेंडरी मैन्यू को छोड़ दें

विषय-सूची को छोड़ दें

यहोवा के साक्षी

हिंदी

बाइबल से सीखें अनमोल सबक

 पाठ 61

वे मूरत के आगे नहीं झुके

वे मूरत के आगे नहीं झुके

राजा नबूकदनेस्सर ने मूरत का सपना देखने के कुछ समय बाद, सोने की एक बहुत बड़ी मूरत बनवायी। उसने वह मूरत दूरा नाम के मैदान में खड़ी करायी और देश के खास-खास लोगों को उसके सामने इकट्ठा होने के लिए कहा। उनमें शदरक, मेशक और अबेदनगो भी थे। राजा ने उन्हें हुक्म दिया, ‘जैसे ही तुम तुरहियों, सुरमंडल और दूसरे बाजों की आवाज़ सुनोगे तो तुम मूरत के आगे झुकोगे! जो कोई नहीं झुकेगा उसे आग के भट्ठे में फेंक दिया जाएगा।’ क्या वे तीन इब्री आदमी मूरत के आगे झुके या फिर उन्होंने सिर्फ यहोवा की उपासना की?

राजा ने हुक्म दिया कि संगीत बजाया जाए। तब सबने गिरकर मूरत की पूजा की, सिवाय शदरक, मेशक और अबेदनगो के। कुछ आदमियों ने यह देख लिया और उन्होंने जाकर राजा से कहा, ‘उन तीन इब्री आदमियों ने तेरी मूरत की पूजा करने से इनकार कर दिया।’ तब नबूकदनेस्सर ने उन तीनों को बुलवाया और उनसे कहा, ‘मैं तुम्हें मूरत की पूजा करने का एक और मौका देता हूँ। अगर तुम ऐसा नहीं करोगे तो मैं तुम्हें आग के भट्ठे में फेंक दूँगा। दुनिया में ऐसा कोई ईश्‍वर नहीं जो तुम्हें मेरे हाथ से बचा सके।’ उन्होंने कहा, ‘हमें एक और मौका नहीं चाहिए। हमारा परमेश्‍वर हमें बचा सकता है। लेकिन अगर वह हमें नहीं बचाता तब भी हे राजा, हम इस मूरत की पूजा नहीं करेंगे।’

नबूकदनेस्सर को बहुत गुस्सा आया। उसने अपने आदमियों से कहा, ‘भट्ठे को सात गुना ज़्यादा गरम कर दो!’ फिर उसने अपने सैनिकों को हुक्म दिया, ‘इन आदमियों को बाँध दो और भट्ठे में फेंक दो!’ भट्ठा इतना गरम था कि जैसे ही सैनिक उसके पास गए वे मर  गए। तीनों इब्री आदमी भट्ठे में गिर गए। मगर नबूकदनेस्सर ने देखा कि भट्ठे में तीन नहीं, चार आदमी चल रहे हैं! वह डर गया और उसने अपने अधिकारियों से पूछा, ‘क्या हमने तीन आदमियों को आग में नहीं फेंका था? मुझे तो चार नज़र आ रहे हैं और उनमें से एक स्वर्गदूत जैसा लग रहा है!’

नबूकदनेस्सर भट्ठे के पास गया और उन्हें पुकारा, ‘हे परम-प्रधान परमेश्‍वर के सेवको, बाहर आओ!’ हर कोई यह देखकर हैरान रह गया कि शदरक, मेशक और अबेदनगो को आग से कुछ नहीं हुआ है। उनकी खाल, उनके बाल और कपड़े बिलकुल नहीं जले थे। उनसे जलने की बू तक नहीं आ रही थी।

नबूकदनेस्सर ने कहा, ‘शदरक, मेशक और अबेदनगो का परमेश्‍वर महान है। उसने अपना स्वर्गदूत भेजकर इन्हें बचा लिया। उसके जैसा परमेश्‍वर और कोई नहीं।’

उन तीन इब्री आदमियों की तरह क्या आपने भी ठान लिया है कि चाहे जो भी हो जाए, आप यहोवा के वफादार रहेंगे?

“तू सिर्फ अपने परमेश्‍वर यहोवा की उपासना कर और उसी की पवित्र सेवा कर।”—मत्ती 4:10